आचार्या प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया

हरिद्वार – विश्व हिन्दू परिषद के सेवा विभाग द्वारा संचालित संस्कारशालाओं के प्रशिक्षण हेतु एक आचार्या प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन प्राचीन अवधूत मण्डल आश्रम, ज्वालापुर में किया गया। विश्व हिन्दू परिषद की संस्कार आचार्या प्रशिक्षण कार्यशाला का उद्घाटन प्रदीप मिश्रा प्रांत उपाध्यक्ष की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। संस्कार आचार्या प्रशिक्षण कार्यशाला के मुख्य अतिथि के रुप में अखिल भारतीय सेवा प्रमुख अजय पारीक का महत्वपूर्ण मार्गदर्शन कार्यकर्ताओं को प्राप्त हुआ। अजय पारीक ने देशभर में विश्व हिन्दू परिषद द्वारा संचालित किए जा रहे सेवा कार्यों के सम्बंध में जानकारी देते हुए कहा कि “जहां अभाव वहां हम” जैसे ध्येय वाक्य का समाज को यथार्थ में दर्शन कराने में सेवा विभाग के कार्यकर्ताओं की महत्वपूर्ण भूमिका है।

विश्व हिन्दू परिषद के प्रांत संगठन मंत्री अजय कुमार ने कहा कि विश्व हिन्दू परिषद सम्पूर्ण देश में शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वालंबन, समरसता, संस्कार जैसे महत्वपूर्ण विषयों को केंद्र मानकर समाज के वंचित, शोषित, पीड़ित समुदाय को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं। विश्व हिन्दू परिषद देश में अनाथ, निराश्रित, निर्धन बालकों के लिए 118 आवासीय सेवा प्रकल्प संचालित कर रहा हैं। इन सेवा प्रकल्पों में बालकों के समग्र विकास शैक्षिक, आध्यात्मिक, सांस्कृतिक, राष्ट्रभक्ति आदि जैसे विषयों पर रचनात्मक विकास कार्य कर रहे हैं। विश्व हिन्दू परिषद द्वारा संचालित सेवा प्रकल्पों के सकारात्मक परिणाम स्वरूप वर्तमान में सम्पूर्ण देश में अशिक्षा, कुसंस्कार, अराष्ट्रीय जैसी गतिविधियों पर लगाम लगी है। सेवा प्रकल्पों से निकलने वाले बालक समाज की मुख्य धारा में समाज परिवर्तन के वाहक बन कर परिवर्तन लाने में सफल रहे हैं।

विश्व हिन्दू परिषद के क्षेत्र सेवा प्रमुख भारत गगन ने कहा कि उत्तराखण्ड प्रान्त में सेवा के क्षेत्र में विश्व हिन्दू परिषद बड़े सेवा प्रकल्पों में अनाथ बालकों के पालन–पोषण और शिक्षा–दीक्षा हेतू वात्सल्य वाटिका बहादराबाद, अनाथ बालिकाओं के पालन–पोषण और शिक्षा–दीक्षा हेतू मातृ आंचल जगजीतपुर, श्रीमती कौशल गुप्ता धर्मार्थ चिकित्सालय लक्षमौली के साथ अनेक संस्कार केंद्र, सिलाई कढ़ाई प्रशिक्षण केंद्र, आरोग्य केंद्र, दिव्यांग सहायता उपकरण केंद्र, समरसता केंद्र समाज के विभिन्न क्षेत्रों संचालित कर रहा हैं। भविष्य में युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने हेतू प्रशिक्षण के लिए एक कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र भी संचालित करने की दिशा में कार्य कर रहा हैं।

आचार्या प्रशिक्षण कार्यशाला में प्रशिक्षु महिलाओं का प्रशिक्षण करने हेतु काशी प्रांत से विजय कृष्ण सिंह एवं सीमा सिंह, अरुणाचल प्रदेश से सुश्री कायम परटीन एवं नाहरलगून, गुहाहाटी क्षेत्र से सुश्री कोकिला कोमूट विशेष रूप से उपस्थित रहें हैं। आचार्या प्रशिक्षण कार्यशाला में प्रांत कार्यालय प्रमुख वीरसेन मानव, प्रांत सह सेवा प्रमुख अनिल भारतीय, जिला सेवा प्रमुख अरुण गुप्ता, नगर संगठन मंत्री कुलदीप पंचौली, सर्व व्यवस्था प्रमुख रविभूषण जोशी, शंभुप्रसाद, मोहित, सौरभ सक्सेना आदि समेत अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share