आईएमए की पासिंग आउट परेड संपन्न : देश को मिले 314 सैन्य अफसर

सोल ऑफ इंडिया soulofindia

देहरादून। भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) की पासिंग आउट परेड शनिवार को संपन्न हुई। आईएमए की इस बार की पासिंग आउट परेड में कुल 344 जेंटलमैन कैडेट्स पास आउट हुए हैं। इनमें से 314 भारतीय मूल के कैडेट्स परेड में अंतिम पग पार कर भारतीय सेना में बतौर अधिकारी शामिल हुए हैं। आईएमए पासिंग आउट परेड में 11 मित्र देशों के 30 विदेशी कैडेट्स भी पास आउट होकर अपने-अपने राष्ट्र के सेना में शामिल होंगे। आज की पासिंग आउट परेड में उत्तराखंड के 29 कैडेट्स भी पास आउट हुए हैं।
 आईएमए की पीओपी में अंतिम पग पार करते ही जेंटलमैन कैडेट सैन्य अफसर बन गए। चौटवुड बिल्डिंग में प्रवेश करते ही सभी कैडेट लेफ्टिनेंट पद के ऑफिसर बन गए हैं। जैसे ही कैडेट पास आउट हुए, सेना के तीन हेलीकॉप्टरों ने उन पर पुष्प वर्षा करके उनके उत्साह और खुशी को चौगुना कर दिया। पास आउट होने वाले कैडेटों ने माइक्रो एयर लाइट क्राफ्ट (पैरा जंपिंग), घुड़सवारी, ट्रिक राइडिंग, रिंग फायर जंपिग, पीईटी डिस्पले आदि साहसिक करतब दिखाकर शारीरिक व मानसिक संतुलन का बेहतरीन प्रदर्शन किया। डेयर डेविल्स शो भी आकर्षण का खास केंद्र रहा। मार्शल आर्ट, जूडो-करांटे, थाई बाक्सिंग में भी शानदार प्रदर्शन कर कैडेटों ने वाहवाही लूटी।
भारतीय सैन्य अकादमी में आयोजित होने वाली पासिंग आउट परेड में शिरकत करने वाले जेंटलमैन कैडेट पास आउट होने से पहले देश के लिए सर्वाेच्च बलिदान देने वाले सैन्य अफसरों की जांबाजी से प्रेरणा लेते हैं। शनिवार को परेड में शिरकत कर भारतीय थलसेना का अभिन्न अंग बनने वाले 314 जेंटलमैन कैडेटों ने शुक्रवार सुबह आइएमए स्थित युद्ध स्मारक पर बलिदानी सैनिकों को श्रद्धांजलि दी।
आईएमए में पास आउट होने वाले 314 भारतीय कैडेट्स में सबसे अधिक उत्तर प्रदेश के 51 और हरियाणा के 30 जेंटलमैन कैडेट्स पास आउट हुए हैं। उत्तराखंड के 29 कैडेट्स भी आईएमए पासिंग आउट परेड का हिस्सा बने। आज की पासिंग आउट परेड के मुख्य अतिथि लेफ्निेंट जनरल योगेन्द्र डिमरी सेन्ट्रल कमाण्ड थे। उन्हें भव्य प्रदर्शन कर परेड ने सलामी दी। आंध्र प्रदेश के 4, अरुणाचल प्रदेश-1, असम- 4, बिहार- 24, चंडीगढ़-2, छत्तीसगढ़ -4, दिल्ली-13, गुजरात- 5, हरियाणा- 30, हिमाचल प्रदेश- 17, जम्मू कश्मीर-9, झारखंड-2, कर्नाटक-9, केरल-10, लद्दाख -1, इंडियन डोमिसाइल नेपाल -1, मध्य प्रदेश -15, महाराष्ट्र -21, मणिपुर-2, मिजोरम-3, नागालैंड-1, उड़ीसा-1, पंजाब -21, राजस्थान -16,तमिलनाडु- 7,तेलंगाना-2, त्रिपुरा-1,उत्तर प्रदेश -51, उत्तराखंड -29, वेस्ट बंगाल के 8 कैडेट्स शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share