आगामी चारधाम यात्रा चुनौती पूर्ण होगीः महाराज

*गुप्तकाशी स्थित श्री बाबा केदार बालक छात्रावास का वार्षिकोत्सव*

*गुप्तकाशी (रुद्रप्रयाग)।* आगामी चारधाम यात्रा चुनौती पूर्ण होगी। इसलिए चारधाम आने वाले उम्र दराज तीर्थ यात्रियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए स्वास्थ्य निदेशालय व आम जनमानस से सुझाव मांगें जा रहे हैं।

उक्त बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रकल्प “उत्तंराचल देवीय आपदा पीड़ित सहायता समिति” द्वारा श्री बाबा केदार बालक छात्रावास गुप्तकाशी के वार्षिकोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग करते हुए प्रदेश के पर्यटन, लोक निर्माण, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, सिंचाई, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने अपने संबोधन में कही।

प्रदेश के पर्यटन, लोक निर्माण, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, सिंचाई, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने रविवार को “उत्तंराचल देवीय आपदा पीड़ित सहायता समिति” द्वारा संचालित श्री बाबा केदार बालक छात्रावास, गुप्तकाशी के वार्षिकोत्सव में प्रतिभाग कर रहे छात्र-छात्राओं, जनप्रतिनिधियों व सामाजिक कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि देश के नौनिहालों और समाज को संस्कारवान बनाने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक का हमेशा अग्रणी रहा है। छात्र-छात्राओं द्वारा प्रस्तुत रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं का प्रदर्शन काबिले तारीफ है।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि आगामी चारधाम यात्रा चुनौती पूर्ण होगी। इसलिए चार धाम आने वाले उम्र दराज तीर्थ यात्रियों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए स्वास्थ्य निदेशालय व आम जनमानस से सुझाव मांगें जा रहे है! उन्होंने कहा कि इस बार चार धाम में 46 लाख 24 हजार 392 तीर्थ यात्रियों के आने से क्षेत्र की आर्थिकी सुदृढ़ हुई है। पर्यटन एवं धर्मस्व मंत्री श्री महाराज ने कहा कि प्रदेश सरकार शीतकालीन पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयासरत है। इसलिए प्रदेश सरकार ने 12 गढ़वाल व 12 कुमाऊँ के तीर्थस्थलों को शैव, वैष्णों और शाक्त सर्किटों के रूप में विकसित किया है और नागराजा सर्किट को विकसित करने की कवायद पूरी हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के समय देश की आर्थिकी बुरी तरह प्रभावित हो गयी थी। मगर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुशल नेतृत्व का परिचय देते हुए “मेक इन इंडिया” के तहत देश में ही वैक्सीन बनाने का कार्य शुरू करवाया तथा आज हर देशवासी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यो की तारीफ कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व में ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। रेलवे परियोजना के निर्माण के कारण प्रभावित परिवारों को उचित मुआवजा देने के लिए केंद्रीय रेल मंत्री का श्रीनगर दौरा प्रस्तावित हो चुका है। शीघ्र ही रेल परियोजना से प्रभावितों को उचित मुआवजा देने की सामूहिक पहल शुरू की जाएगी उन्होंने कहा कि भगवान भावनाओं के वशीभूत होता है इसलिए भारत का हर नागरिक यदि आध्यात्म के मार्ग पर अग्रसर होने की पहल करता है तो भारत पुनः विश्व गुरु बन सकता है।

श्री महाराज ने कहा कि कालीमठ घाटी के विभिन्न गावों के जनप्रतिनिधियों द्वारा उन्हे क्षेत्र में फैली विभिन्न समस्याओं से भी रूबरू करवाया गया है, जिनके निराकरण के लिए शीघ्र प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने छात्रावास में अध्ययन कर रहे नौनिहालों के सर्वांगीण विकास के लिए 2 लाख 51 हज़ार रुपये धनराशि देने की भी घोषणा की।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत ने आरएसएस के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि आरएसएस की बदौलत आपदा प्रभावित असहाय व गरीब नौनिहालों को आसरा मिला है। उन्होने कहा कि आपदा के बाद केदारघाटी सहित अन्य तीर्थ व पर्यटकस्थलों की आर्थिकी सुदृढ करने और कार्तिक स्वामी पर्यटन सर्किट को विकसित करने में सतपाल महाराज का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज से मदमहेश्वर व तुंगनाथ धाम की यात्रा को केदारनाथ धाम की तर्ज पर संचालित करने की भी मांग की और बारही मंदिर सहित केदारनाथ विधानसभा में आपदा से क्षतिग्रस्त मंदिरों के पुनर्निर्माण, तीर्थस्थलों के सौंदर्यकरण की भी मांग की।

वार्षिकोत्सव कार्यक्रम के मुख्य वक्ता आरएसएस के प्रान्त सेवा प्रमुख पवन कुमार ने कहा कि आरएसएस ही नहीं बल्कि पूरे हिन्दू समाज के रक्त में हमेशा से ही निस्वार्थ सेवा भाव रहा है। श्री बाबा केदार बालक छात्रावास गुप्तकाशी आरएसएस का सेवाभाव है कि यहां पढ़ने वाले गरीब निराश्रित बच्चे स्वाभिमान व स्वाबलंब से पूर्ण हों। विशिष्ठ अतिथि केदारघाटी के प्रसिद्ध उद्योगपति कुशाल सिंह नेगी ने छात्रावास में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के पठन पाठन के लिए 1 लाख 25 हज़ार रुपये देने की घोषणा की।

दैवीय आपदा पीड़ित सहायता समिति के अध्यक्ष डी0एस0 पुजारी ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। इससे पूर्व पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने सिद्धपीठ कालीमठ में पूजा अर्चना कर प्रदेश के खुशहाली की कामना की तथा उनके कालीमठ घाटी आगमन पर जनप्रतिनिधियों ने क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं के निराकरण के लिए ज्ञापन दिए।

इस मौके पर विभाग प्रचारक शरद, जिला कार्यवाहक जगदीश जग्गी, विभाग कार्यवाहक पहलाद पुष्पवाण, कोषाध्यक्ष मदन सिंह नेगी, सचिव लक्ष्मण सिंह बिष्ट, क्षेत्र पंचायत प्रमुख स्वेता पांडेय, बीकेटीसी के सदस्य श्रीनिवास पोस्ती, केदारनाथ नगर पंचायत अध्यक्ष देव प्रकाश सेमवाल, केदारसभा अध्यक्ष राजकुमार तिवारी, भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष कुवरी बर्तवाल, भाजपा जिला मीडिया प्रभारी सत्येंद्र बर्तवाल, भाजपा मंडल अध्यक्ष गुप्तकाशी विनोद देवशाली, भाजपा मंडल अध्यक्ष सतेराखाल गंभीर बिष्ट, गजपाल रावत, अंजना रावत, राय सिंह राणा, योगेंद्र नेगी, विजयपाल नेगी, जयंती कुर्मांचली, प्रकल्प प्रमुख वीरेंद्र सिंह बिष्ट, प्रदीप राणा, आशीष कंडारी सहित विभिन्न क्षेत्रों के जनप्रतिनिधी व भाजपा कार्यकर्ता व नौनिहाल मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन अरुण चमोली व तेज प्रकाश त्रिवेदी ने संयुक्त रूप से किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share