राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार में NCC अधिकारी डॉ. डीएस चौहान के लेफ्टिनेंट बनने पर किया सम्मान कार्यक्रम आयोजित

कोटद्वार : राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार गढ़वाल के एन.सी.सी.अधिकारी डॉ. डी.एस.चौहान द्वारा महाराष्ट्र के कामटी में  एन.सी.सी.का कोर्स पूर्ण  कर लेफ्टिनेंट बनने पर महाविद्यालय के एन.सी.सी. कैडेट्स द्वारा एक सम्मान समाहरोह कार्यक्रम का आयोजन किया | उक्त कार्यक्रम कि शुरुआत में प्राचार्य प्रो.जानकी पंवार, लेफ्टिनेंट डॉ.डी.एस.चौहान तथा महाविद्यालय के अन्य प्राध्यापकों तथा एन.सी.सी. कैडेट्स ने शौर्य दिवार पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी तत्पश्चात महाविद्यालय के सभागार में एन.सी.सी. कैडेट्स के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गए |
लेफ्टिनेंट डॉ.डी.एस.चौहान के कोर्स के दौरान महाविद्यालय में एन.सी.सी. प्रभारी डॉ.संजीव कुमार ने कहा  कि यह महाविद्यालय परिवार के लिए गर्व कि बात है कि महाविद्यालय परिवार से डॉ.डी.एस.चौहान एन.सी.सी.का कोर्स पूर्ण कर लेफ्टिनेंट बन गए हैं, साथ ही आपने इन तीन महीनों में अपने  एन.सी.सी. कैडेट्स के साथ अनुभव को साझा करते हुए कहा कि कैडेट्स सुबह 5 बजे से महाविद्यालय में आकर अपनी पीटी परेड करते हैं साथ ही उन्होंने  महाविद्यालय द्वारा एन.सी.सी. को  प्रदान किये गए प्रांगण को ऐसा बना दिया  है जिसको देख कर लगता है कि हम किसी कैंट एरिया में आ गए हों जबकि दूसरी तरफ आजकल केवल फोटो खिंचवा कर ही स्वछता कार्यक्रम चलाये जाते हैं जो वास्तविकता से कोसों दूर रहते हैं |
वरिष्ठतम प्राध्यापिका प्रो.सीमा चौधरी ने भी अपने वक्तव्य में चौहान जी को बधाई देते हुए कहा कि अब एन.सी.सी.के कैडेट्स को उनकी ट्रेंनिंग का लाभ मिलेगा जिससे वो आगे और अच्छा प्रदर्शन करेंगे, प्रो.महंथ मौर्य ने भी बताया कि ट्रेंनिग में जाने से पहले चौहान जी थोडा नर्वस थे लेकिन उन्होंने कोर्स पूरा कर दिखा दिया कि उनके अन्दर वो जूनून है जो एन.सी.सी. में चाहिए | महाविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर प्रो.आर.एस.चौहान ने भी लेफ्टिनेंट चौहान को बधाई देते हुए कहा कि इस कोर्स को पूर्ण करना आसान नहीं होता कई लोग वहां से कभी मेडिकल कभी अनुशासन का पालन न करने पर बाहर हो जाते हैं |
लेफ्टिनेंट डॉ.डी.एस.चौहान ने अपने वक्तव्य में अपने कोर्स के अनुभव साझा करते हुए बताया की कैसे कभी कभी लगता था कि वो कोर्स पूरा नहीं कर पाएंगे लेकिन माता पिता एवं  प्राचार्य मैडम के आशीर्वाद तथा परिवार और महाविद्यालय परिवार कि शुभकामानाओं के कारण वो इस कोर्स को पूर्ण कर पाए साथ ही उन्होंने प्राचार्य मैडम को आश्वस्त किया की आने वाले समय पर वो महाविद्यालय की  एन.सी.सी. यूनिट को और भी ऊचाई पर ले जायेंगे |
कार्यक्रम के अंत में प्राचार्य प्रो.जानकी पंवार ने कहा कि उत्तराखंड कि धरती वीर सपूतों कि धरती है यहाँ कि माटी ने कई वीरों को जन्म दिया है इसलिए वो आश्वस्त थी कि लेफ्टिनेंट डॉ.डी.एस.चौहान कोर्स को पूर्ण कर महाविद्यालय का नाम रोशन करेंगे और उन्होंने ऐसा किया भी  आपने कहा कि चौहान जी सफलता में की उनकी पत्नी लक्ष्मी चौहान और उनके माता पिता के आशीर्वाद का भी बहुत बड़ा योगदान है | इस अवसर पर महाविद्यालय परिवार के प्राध्यापक और एन.सी.सी. के सभी कैडेट्स उपस्थित थे |

Share