डीएम हिमांशु खुराना ने विकासखंड थराली के आपदा प्रभावित पैनगढ क्षेत्र का किया स्थलीय निरीक्षण, आपदा की जद में आए सभी परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर कराया जाएगा स्थायी विस्थापन

चमोली : जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने विकासखंड थराली के आपदा प्रभावित पैनगढ क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी आपदा पीडित परिवारों से मिले और उनको सांत्वना देते हुए हर संभव मदद का भरोसा दिया। विगत कुछ दिन पहले पैनगढ गांव के ऊपर पहाड़ी से हुए भूस्खलन की चपेट में आने से एक ही परिवार के चार लोगों की मृत्यु हो गई थी, जबकि कुछ मकान, गौशाला एवं परिसंपत्तियां भी क्षत्रिग्रस्त हुई है। यहां अभी भी पहाड़ी से लगातार बडे बोल्डर गिर रहे है जिससे पैनगढ गांव के पल्ला खोला और रूपगढ तोक के परिवारों के आवासीय मकान खतरे की जद में आ रहें है। जिलाधिकारी ने भूस्खलन स्पॉट का भी मुआयना किया।जिलाधिकारी ने कहा कि आपदा की जद में आए सभी परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर स्थायी विस्थापन कराया जाएगा। उन्होंने भू-वैज्ञानिक टीम को जल्द से जल्द सर्वे करके सुरक्षित भूमि चिन्हित करने और तहसील प्रशासन को इसका प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
आपदा प्रभावित ग्रामीणों से वार्ता करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि जब तक स्थाई विस्थापन होता है, तब तक के लिए सभी प्रभावितों की सहमति से किसी सुरक्षित स्थान पर 10 लाख की धनराशि से कम्युनिटी शैल्टर निर्मित किया जाएगा। ताकि प्रभावितो को जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किया जा सके। इसके अतिरिक्त उन्होंने एसडीएम को गांव में प्रभावित परिवारों के ठहरने की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए। जिलाधिकारी ने आपदा प्रभावित परिवारों में त्रिपाल व कंबल वितरित करना और साथ ही सोलर लाईट, पानी, राशन एवं अन्य आवश्यक सामग्री की भी समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कहा कि प्रभावित परिवारों की जो भी समस्या है, उसका निस्तारण ससमय किया जाएगा। निरीक्षण के दौरान एसडीएम रवींद्र ज्वांठा, आपदा प्रबंधन अधिकारी एनके जोशी, ईई आरडब्लूडी अला दिया सहित तहसील प्रशासन के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Share