जिलाधिकारी श्री पाण्डेय ने अतिक्रमण हटाओ का जायजा लिया

जिलाधिकारी श्री पाण्डेय ने अतिक्रमण हटाओ का जायजा लिया

हरिद्वार। जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने अतिक्रमण हटाओ अभियान को और गति देते हुये शुक्रवार को शहर में चल रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान का जायजा लिया।
जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय सबसे पहले पुलिस कोतवाली ज्वालापुर के निकट जटवाड़ा पुल पहुंचे, जहां से उन्होंने मण्डी की ओर रूख करते हुये आसपास की दुकानों-जय दुर्गे प्रिण्टर्स, साया इलेक्ट्रिकल्स, चौराहे पर स्थित मिष्ठान्न भण्डार होते हुये, पूरे क्षेत्र का अतिक्रमण की दृष्टि से बारीकी से जायजा लेते हुये निकट नूतन ओजस हास्पिटल के पास पहुंचे, जहां पर चौड़ी जगह होने की वजह से उन्होंने अधिकारियों को वैण्डिंग जोन बनाने तथा बिजली के पोल शिफ्टिंग की संभावनायें तलाशने के निर्देश दिये। उन्होंने मौके पर अधिकारियों को ये भी निर्देश दिये कि जहां पर भी अवैध कब्जा किया गया है, उसे नापकर, उसका ध्वस्तीकरण करना सुनिश्चित करें तथा जहां पर ध्वस्तीकरण किया जा रहा है, वहां पर पुनर्निर्माण का कार्य भी कराते रहें और आवश्यकतानुसार जगह को देखते हुये रोड छोड़कर ग्रिल भी लगाते रहें ताकि दोबारा अतिक्रमण न हो। उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी तरह की कोई भी ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
श्री विनय शंकर पाण्डेय ज्वालापुर क्षेत्र का जायजा लेने के बाद कनखल के झण्डा चौक क्षेत्र में पहुंचे, जहां पर उन्होंने झण्डा चौक का चारों तरफ से मौका मुआयना किया तथा झण्डा चौक के कोने में स्थित बिजली के ट्राईपोल, टेलीफोन का बॉक्स तथा अन्य जो भी अवैध अतिक्रमण किया गया है, उसे हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कनखल के झण्डा चौक स्थित क्षेत्र का किसी आर्किटेक्ट से बढ़िया सा डिजायन तैयार करके नगर निगम या एचआरडीए से इस क्षेत्र का सौन्दर्यीकरण कराया जायेगा।
जिलाधिकारी कनखल क्षेत्र का अतिक्रमण की दृष्टि से निरीक्षण करते हुये भारत माता मन्दिर रोड पहुंचे तथा वहां पर हटाये गये अतिक्रमण का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि अतिक्रमण हटाने के बाद जो बिजली के पोल गणपति अपार्टमेंट आदि के आसपास सड़क पर आ रहे हैं, उन्हें जल्दी से जल्दी यथास्थान स्थानान्तरित किया जाये। उन्होंने अधिकारियों को यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये कि निर्माण करते समय किसी का भी छज्जा रोड पर नहीं आना चाहिये तथा पुनर्निर्माण का जो भी कार्य चल रहा है, उसे दु्रत गति से पूरा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने भारत माता मन्दिर के संचालक, परमार्थ निकेतन, भूमानिकेतन आदि के द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान में जो सहयोग प्रदान किया जा रहा है, उसके लिये उनकी प्रशंसा की तथा धन्यवाद ज्ञापित करते हुये आभार व्यक्त किया।
हरिद्वार। जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने अतिक्रमण हटाओ अभियान को और गति देते हुये शुक्रवार को शहर में चल रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान का जायजा लिया।
जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय सबसे पहले पुलिस कोतवाली ज्वालापुर के निकट जटवाड़ा पुल पहुंचे, जहां से उन्होंने मण्डी की ओर रूख करते हुये आसपास की दुकानों-जय दुर्गे प्रिण्टर्स, साया इलेक्ट्रिकल्स, चौराहे पर स्थित मिष्ठान्न भण्डार होते हुये, पूरे क्षेत्र का अतिक्रमण की दृष्टि से बारीकी से जायजा लेते हुये निकट नूतन ओजस हास्पिटल के पास पहुंचे, जहां पर चौड़ी जगह होने की वजह से उन्होंने अधिकारियों को वैण्डिंग जोन बनाने तथा बिजली के पोल शिफ्टिंग की संभावनायें तलाशने के निर्देश दिये। उन्होंने मौके पर अधिकारियों को ये भी निर्देश दिये कि जहां पर भी अवैध कब्जा किया गया है, उसे नापकर, उसका ध्वस्तीकरण करना सुनिश्चित करें तथा जहां पर ध्वस्तीकरण किया जा रहा है, वहां पर पुनर्निर्माण का कार्य भी कराते रहें और आवश्यकतानुसार जगह को देखते हुये रोड छोड़कर ग्रिल भी लगाते रहें ताकि दोबारा अतिक्रमण न हो। उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी तरह की कोई भी ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
श्री विनय शंकर पाण्डेय ज्वालापुर क्षेत्र का जायजा लेने के बाद कनखल के झण्डा चौक क्षेत्र में पहुंचे, जहां पर उन्होंने झण्डा चौक का चारों तरफ से मौका मुआयना किया तथा झण्डा चौक के कोने में स्थित बिजली के ट्राईपोल, टेलीफोन का बॉक्स तथा अन्य जो भी अवैध अतिक्रमण किया गया है, उसे हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कनखल के झण्डा चौक स्थित क्षेत्र का किसी आर्किटेक्ट से बढ़िया सा डिजायन तैयार करके नगर निगम या एचआरडीए से इस क्षेत्र का सौन्दर्यीकरण कराया जायेगा।
जिलाधिकारी कनखल क्षेत्र का अतिक्रमण की दृष्टि से निरीक्षण करते हुये भारत माता मन्दिर रोड पहुंचे तथा वहां पर हटाये गये अतिक्रमण का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि अतिक्रमण हटाने के बाद जो बिजली के पोल गणपति अपार्टमेंट आदि के आसपास सड़क पर आ रहे हैं, उन्हें जल्दी से जल्दी यथास्थान स्थानान्तरित किया जाये। उन्होंने अधिकारियों को यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये कि निर्माण करते समय किसी का भी छज्जा रोड पर नहीं आना चाहिये तथा पुनर्निर्माण का जो भी कार्य चल रहा है, उसे दु्रत गति से पूरा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने भारत माता मन्दिर के संचालक, परमार्थ निकेतन, भूमानिकेतन आदि के द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान में जो सहयोग प्रदान किया जा रहा है, उसके लिये उनकी प्रशंसा की तथा धन्यवाद ज्ञापित करते हुये आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share