आरएसएस के कनखल मंडल के तत्वाधान में 101 यूनिट हुई एकत्र,

स्वयं स्वस्थ रहने के साथ दूसरों को जीवनदान देता है रक्तदान : डॉ. यतीन्द्र नागयन

हरिद्वार।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कनखल मंडल द्वारा एमसीएस विद्यापीठ सतीकुंड में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में रक्तदाताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। जिला ब्लडबैंक की टीम के निर्देशन में 101 लोगों ने रक्तदान किया।


रक्तदान शिविर का उद्घाटन करते नगर संचालक डॉ. यतीन्द्र नागयन ने कहा कि रक्तदान से जहाँ हम किसी जरूरतमंद को को जीवनदान देते है, वही नियमित रक्तदान कर हमें रक्त विकारों से भी मुक्ति मिलती है। युवाओं को स्वस्थ रहने के लिए समय समय पर रक्तदान करते रहना चाहिए। हमारे रक्त से यदि किसी दूसरे व्यक्ति को जीवन मिलता है तो इससे बड़ा कोई दान नही है। उन्होंने कहा की समाज मे रक्त की कमी से कोई इंसान न मरे, इसके लिए युवाओं को समाज को भी जागरूक करना चाहिए। एक स्वस्थ्य व्यक्ति प्रत्येक 3 माह पर रक्त दान कर जरूरतमंद को जीवनदान दे सकता है।
कनखल मंडल सेवा प्रमुख व कार्यक्रम संयोजक राहुल वत्स ने कहा कि ने कहा क‌ि रक्तदान करने से शरीर मे चुस्ती-फुर्ती बनी रहती है। युवाओं को रक्तदान आवश्यक करना चाहिए। हमारा रक्त किसी और कि नशों में दौड़ कर उसे जीवनदान से सकता है, तो इससे बड़ा पुण्य का कोई काम नही है। मंडल कार्यवाह अर्पित अग्रवाल ने कहा कि आरएसएस का प्रत्येक स्वयंसेवक सदैव समाज के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा रहता है। वैसे तो अधिकांश स्वयंसेवक अपने स्तर से अलग अलग कैम्पो में रक्तदान करते ही है, इस बार उन्हें एक साथ सामूहिक रूप से रक्तदान किया है।
सह मंडल कार्यवाह सुशांत ने कहा कि रक्तदान करने से मानव जीवन में कोई दान नहीं होता है। इसलिए हर व्यक्ति को रक्तदान करने की सोच रखकर उत्साह से आगे आकर रक्तदान करना चाहिए।
इस अवसर पर जिला संचालक रोहिताश कुंवर, नगर प्रचारक रमेश मुखर्जी,नगर सह कार्यवाह बलदेव रावत सम्पर्क प्रमुख अमित शर्मा, सह बौद्धिक प्रमुख डॉ. रतनलाल, सौरभ सारस्वत,विनीत गुप्ता,प्रशांत, विकास, मनीष,विनीत बंगा,आराध्य,शंभुजी,ललित, मनीष लखानी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share