2023 को मंडुवा वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय लिया

सोल ऑफ इंडिया
देहरादून। संयुक्त राष्ट्र ने 2023 को मोटे अनाजों का वर्ष घोषित किया है, उत्तराखंड के खानपान को बढ़ावा देने वाले पूर्व सीएम हरीश रावत ने मंडुवा पार्टी का आयोजन कर पहाड़ी खाने की महक बिखेरी। इस दौरान उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने 2023 को मोटे अनाजों का वर्ष घोषित किया है, इसमें हमारा मंडुवा कहीं पीछे न रह जाए, इसलिए उन्होंने इस वर्ष को मंडुवा वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय लिया है।


नए साल के दूसरे दिन सोमवार को तमाम लोगों ने हरीश रावत के निवास पर गुनगुनी धूप में पहाड़ी खाने का आनंद उठाया। मंडुवे की रोटी के साथ भांग की चटनी, कंडाली का साग, काले भट्ट की भटवाणी, मूले का थिच्वाणी, गहत की दाल, झंगोरे की खीर जैसे पकवान मेहमानों को परोसे गए।
पूर्व सीएम ने कहा कि जब हम खुद अपने उत्पादों को बढ़ावा देंगे, तभी दूसरों को भी इनकी अहमियत का अहसास होगा। हमारे हर व्यंजन में पौष्टिकता संग गजब का स्वाद भरा है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वह पहाड़ी उत्पादों को प्रमोट करने में अपना योगदान दें। कहा कि छोटी-छोटी पहल के माध्यम से हम अपनी आर्थिकी को आगे ले जा सकते हैं। इस दौरान मशरूम गर्ल दिव्या रावत की मशरूम बिरयानी और प्यारी पहाड़न की प्रीति मंडोलिया की ओर से पेश किए गए मंडुवे के मोमो का भी लोगों ने स्वाद चखा लिया। इस मौके पर पूर्व आईएएस एसएस पांगती, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सदस्य डॉ. एसएन सचान, पीसी थपलियाल, एसएस रजवार, पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, मंत्री प्रसाद नैथानी, पृथ्वीपाल चौहान, आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा, शांति रावत, गरिमा दसोनी, आशा टम्टा आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share