क्रिकेटर ऋषभ पंत सुरक्षित बाहर निकालने वाले ड्राइवर और कंडक्टर का हुआ सम्मान

नई दिल्ली। सड़क कब हादसा हो जाए, कहा नहीं जा सकता। बस संभलकर चलने की जरूरत है। टीम इंडिया के बल्लेबाज ऋषभ पंत दिल्ली से रुड़की अपनी मां क सरप्राइज देने के लिए 30 दिसंबर को निकले थे। लेकिन नारसन-रुड़की के पास हाईवे पर उनकी कार डिवाइडर से टकराई और कार चकनाचूर होते हुए आग का शोला बन गई। शायद पेट्रोल का टैंक फटने से कार में भयंकर आग लग गई। इस दौरान ऋषभ अपनी जान बचाने के लिए गाड़ी का शीशा तोड़कर सहयोग से जैसे-तैसे बाहर निकल आए और उसके बाद उनकी कार आग के चपेट में आ गई। गौरतलब है कि इस हादसे में पंत को गाड़ी से बाहर निकालने में हरियाणा रोडवेज की एक बस के ड्राइवर और कंडक्टर का काफी अहम रोल रहा। उन्होंने बताया कि हादसे में कार पूरी तरह से खाक हो गई थी, जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया। परिवहन निगम के ड्राइवर सुशील कुमार और परिचालक परमजीत को पानीपत डिपो के महाप्रबंधक ने अपने कार्यालय एक प्रशंसा पत्र और एक स्मृति चिह्न प्रदान किया सम्मानित किया गया है, इस दौरान उन्होंने कहा कि सुशील कुमार ने रात्रि में कार को डिवाइडर से टकराते हुए देखा, जिसके बाद वह अपने संवाहक के साथ रुके और मदद के लिए दौड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share