मौसम साफ होते ही केदारनाथ जाने के लिए उमड़ी अनगिनत श्रद्धालुओं की भीड़

प्रशासन की ओर से बारिश और मौसम को देखते हुए केदारनाथ यात्रा पर अस्थाई रोक लगाई गई थी और तीर्थयात्री जगह-जगह फंसे रहे।

मौसम साफ होते ही केदारनाथ जाने के लिए उमड़ी अनगिनत श्रद्धालुओं की भीड़

सोनप्रयाग। श्रद्धा हमेशा आपदा पर हावी रही है, मौसम की तमाम दुश्वारियां भी ईश्वर भक्तों को उनके दर्शन लाभ से ज्याद समय तक नहीं रोक पातीं। केदारनाथ दर्शन के लिए आमजनमानस लालालियत दिखता है। तीन दिनों तक हुई बारिश के बाद अब मौसम साफ है। मौसम साफ होते ही केदारनाथ यात्रा ने एक बार फिर से रफतार पकड़ ली है। दो दिन के भीतर 30 हजार से अधिक यात्री केदारनाथ पहुंचे हैं। तीन दिनों तक पहाड़ी क्षेत्रों से लेकर बाहरी इलाकों में जमकर बारिश हुई। ऐसे में प्रशासन की ओर से बारिश और मौसम को देखते हुए केदारनाथ यात्रा पर अस्थाई रोक लगाई गई थी और तीर्थयात्री जगह-जगह फंसे रहे।
इस दौरान रात के समय तीर्थयात्रियों को रहने और खाने की काफी समस्या पैदा हुई। 20 अक्टूबर बुधवार को मौसम खुलते ही और चटक धूप आने पर तीर्थयात्रियों के चेहरे पर मुस्कान खिल गई और वे यात्रा पर निकले। यात्रा खुलते ही तीर्थयात्री जगह-जगहों से तीर्थयात्री के लिए निकले। तीन दिन केे भीतर 30 हजार से अधिक यात्री केदारनाथ के दर्शन कर चुके हैं। तीर्थ यात्री हेली सेवा के अलावा पैदल मार्ग से भी केदारनाथ धाम की यात्रा कर रहे हैं। अगर आज तक की बात करे तो आज तक 1 लाख 35 हजार से भी ज्यादा तीर्थ यात्रियों ने भगवान के दर्शन कर दिये है।
जिलाधिकारी मनुज गोयल ने बताया कि यात्री पैदल और हेली सेवा से केदारनाथ दर्शनों के लिये जा रहे हैं। अब यात्रा विधिवत चल रही है।

फोटो साभार