बेरोजगार प्रशिक्षित फार्मासिस्टों ने किया मुख्यमंत्री आवास कूच

प्रशिक्षित बेरोजगारों का ने कहा वे बीते कई दिनों से धरना स्थल पर आंदोलनरत हैं, लेकिन सरकार उनकी मांगों के संबंध में कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रही है।

बेरोजगार प्रशिक्षित फार्मासिस्टों ने किया मुख्यमंत्री आवास कूच


देहरादून। प्रदेश के उप केंद्रों में नियुक्ति समेत विभिन्न मांगों को लेकर प्रशिक्षित बेरोजगार डिप्लोमा फार्मासिस्टों (एलोपैथिक) ने मुख्यमंत्री आवास कूच किया, लेकिन प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने न्यू कैंट रोड स्थित हाथीबड़कला में बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया।
बता दें कि सबसे पहले सभी प्रशिक्षित बेरोजगार फार्मासिस्ट संगठन के बैनर तले प्रदर्शनकारी गांधी पार्क में एकत्रित हुए। जहां संगठन के प्रतिनिधियों ने फार्मासिस्टों को संबोधित करते हुए सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। प्रशिक्षित बेरोजगारों का ने कहा वे बीते कई दिनों से धरना स्थल पर आंदोलनरत हैं, लेकिन सरकार उनकी मांगों के संबंध में कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रही है। संगठन के धनपाल सिंह रावत ने कहा 8 दिन के आमरण अनशन के बाद मुख्यमंत्री सीएम पुष्कर सिंह धामी  ने कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत के माध्यम से जल्द सकारात्मक कार्रवाई का आश्वासन दिया था, लेकिन उनकी मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। सरकार फार्मासिस्टों के 536 पदों को भी समाप्त करने में लगी हुई है, जिसका सभी फार्मासिस्ट घोर विरोध करते हैं।