पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के भ्रमणशील पंच जमात का हुआ भव्य स्वागत

सेवा के क्षेत्र में श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन हमेशा से ही सहभागिता निभाता चला आ रहा है। लॉकडाउन अवधि में भी गरीब असहाय लोगों को कच्चा राशन वितरित कर भोजन इत्यादि भी प्रदान किया गया

पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के भ्रमणशील पंच जमात का हुआ भव्य स्वागत

रायवाला। हरिपुर कला स्थित हरिहर पुरुषोत्तम धाम में पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के भ्रमणशील पंच जमात का भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने साधु संतों का सत्कार करते हुए श्री गोला साहिब की पूजा अर्चना कर प्रदेश वासियों के सुख-समृद्धि की कामना की। हरिहर पुरुषोत्तम धाम में उदासीन पंचायती बड़ा अखाड़ा के रमता पंच जमात का पुष्प वर्षा से जोरदार स्वागत किया गया।इस अवसर पर वैदिक विधि विधान एवं रीति-रिवाजों के अनुसार श्री गोला साहिब की पूजा अर्चना की गई।सनातन धर्म परंपरा के हिसाब से हर कुंभ के बाद श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के संत-महंतों की भ्रमणशील जमात ने श्री दरबार साहिब देहरादून में चौमासा प्रवास किया। जिसके बाद देहरादून और फिर नीलकंठ का भ्रमण कर हरिद्वार लौटे।
            इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष ने कहा की समस्त आर्यवर्त में सनातन धर्म के प्रचार प्रसार के लिए उदासीन पंचायती बड़ा अखाड़ा श्री गोला साहिब की प्रेरणा से भ्रमण करते हुए सनातन धर्म के प्रचार की पताका फहराता आ रहा है।उन्होंने कहा की संतों का जीवन राष्ट्र कल्याण के लिए समर्पित होता है संत भारतीय संस्कृति के सच्चे संवाहक होते हैं एवं हमेशा भारतीय संस्कृति को आगे बढ़ाने के लिए कार्य करते रहते हैं।संत समाज का जीवन सर्वे भवंतु सुखिनः सर्वे संतु निरामया पर आधारित होता है।
            श्री अग्रवाल ने कहा की उदासीन पंचायती बड़ा अखाड़ा द्वारा कुंभ मेले के दौरान हजारों गरीब असहाय लोगों को छावनी में भोजन कराया जाता हैं। सेवा के क्षेत्र में श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन हमेशा से ही सहभागिता निभाता चला आ रहा है। लॉकडाउन अवधि में भी गरीब असहाय लोगों को कच्चा राशन वितरित कर भोजन इत्यादि भी प्रदान किया गया।  सभी को मिलजुल कर गरीब असहाय लोगों की सेवा करनी चाहिए। संतों का जीवन सदैव मानव सेवा के लिए समर्पित रहता है। निर्बल की सेवा करने से हृदय को असीम सुख की प्राप्ति होती है।